शिक्षा की गुणवत्ता के विकास के लिए किए जाएं हर संभव प्रयास- कलेक्टर

Ticker

6/recent/ticker-posts

शिक्षा की गुणवत्ता के विकास के लिए किए जाएं हर संभव प्रयास- कलेक्टर





शिक्षा की गुणवत्ता के विकास के लिए किए जाए हर संभव प्रयास - कलेक्टर 

रीवा।

कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने उत्कृष्ट विद्यालय मार्तण्ड क्रमांक एक में वार्षिक कार्य योजना वर्ष 2019-20 की बैठक की अध्यक्षता करते हुये कहा कि जिले में शिक्षा की गुणवत्ता के विकास के हर संभव प्रयास किये जायें। शिक्षक परीक्षा परिणामों को सर्वोत्कृष्ट लाने के लिये निर्धारित पांच मापदण्डों के अनुसार समर्पित होकर छात्रों को अध्ययन कराये। 
 बैठक में संयुक्त संचालक शिक्षा अंजनी त्रिपाठी, जिला प्रौढ़ शिक्षा अधिकारी श्रीमती भारती श्रीवास्तव, जिला शिक्षा अधिकारी आर.एस. पटेल, डाइट प्राचार्य श्याम नारायण शर्मा, पी.एल. मिश्रा, प्राचार्य वी.पी. खरे सहित शिक्षक उपस्थित थे। 
 कलेक्टर ने कहा कि उत्कृष्ट विद्यालयों में स्थापित अटल टैकरिंग लैब का उपयोग छात्रों के लिये कराया जाये। उन्हें रात्रि में 8 बजे बुलाकर टैलिस्कोप की मदद से ग्रहों एवं तारों की जानकारी दी जाये। बच्चों की नैसर्गिक प्रतिमा को निखारा जाये। उन्हें नये कार्यो के लिये प्रोत्साहित किया जाये। 
 उन्होंने प्राचार्य एवं जिला शिक्षा अधिकारी की मांग पर उत्कृष्ट विद्यालय मार्तण्ड एक के समय में परिवर्तन कर प्रात: 9 बजे से अपरान्ह 3.30 बजे तक लगाने के निर्देश दिये।
 कलेक्टर ने शाला परिसर में क्षतिग्रस्त शाला भवन का निर्माण कराने के लिये नगर निगम को पांच वर्ष पूर्व 18 लाख 20 हजार रूपये देने के बाद भी निर्माण पूर्ण न करने पर आयुक्त नगर निगम को पत्र प्रेषित कर अतिरिक्त आवंटन उपलब्ध कराने की मांग करने के लिये कहा शाला परिसर में 2 अतिरिक्त कक्षों के निर्माण के लिए एसएसडीसी को निर्माण एजेंसी बनाकर 12 लाख 17 हजार रूपये आवंटन जारी करने के निर्देश दिये। शाला भवन में रैम्प का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। छात्र-छात्रों के समुचित पेयजल व्यवस्था के लिये शेड, एवं पानी की टंकी का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिये आर.ओ. लगाया गया है। बैठक में बताया गया कि मण्डल के स्ट्रांग रूम का सुदृढ़ीकरण, मरम्मत एवं विद्युत फिटिंग का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। कक्षों में विद्युत मरम्मत एवं पुताई का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। पुस्तकालय कक्ष सुसज्जित कर पुस्तकें उपलब्ध कराई गयी है। छात्रों के लिये साइकिल स्टैण्ड एवं मुख्य द्वार गेट की मरम्मत कराया जाना है। 
 कलेक्टर ने स्कूल की समस्त टूटी शीटों को ठीक कराने के लिये 5 लाख रूपये का आवंटन उपलब्ध कराने की सहमति दी। बताया गया कि बास्केट बाल का क्रीड़ागन ठीक कराना है। बागबानी एवं प्रयोगशाला के लिये नल की फिटिंग करा ली गई है। शाला परिसर की पूर्वी बाउंड्रीबाल की ऊचाई बढ़ायी जायेगी एवं कटीले तार लगाई जायेगी। संस्था में रिक्त पद व्याख्याता वाणिज्य (कामर्स) के दो एवं भृत्य के दो पद की पूर्ति की जाना है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ