MP News: अनलॉक के दौरान दुकानदारों के लिए गाइड लाइन जारी, पढ़िए क्या है नियम

Ticker

6/recent/ticker-posts

MP News: अनलॉक के दौरान दुकानदारों के लिए गाइड लाइन जारी, पढ़िए क्या है नियम



MP News: अनलॉक के दौरान दुकानदारों के लिए गाइड लाइन जारी, पढ़िए क्या है नियम


अनलॉक के दौरान बिना वैक्सिनेशन के दुकानदार ना तो दुकान खोल सकेंगे और ना ही ग्राहक सामान खरीद सकेंगे। COVID19 प्रभारी, खाद्य मंत्री श्री बिसाहू लाल सिंह रविवार को शहडोल, सीधी एवं अनूपपुर के क्राइसिस मैनिजमेंट कमेटी के सदस्यों एवं अधिकारियों के साथ वर्चुअल चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कलेक्टर को स्पष्ट हिदायत दी कि ऐसे लोगों पर फाइन लगाएं जो वैक्सीन लगवाए बिना अपनी दुकान खोलते हैं अथवा ग्राहक सामान खरीदते पाए जाते हैं।

खाद्य मंत्री श्री सिंह प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अनलॉक के संबंध में राज्य शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों को लागू करने के संबंध में उनसे चर्चा कर रहे थे। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि ऐसे गांव और पंचायत जहां 5 से अधिक कोरोना संक्रमित पाए जाते हैं वहां लॉकडाउन में शिथिलता नहीं दी जाए। अनूपपुर, सीधी एवं शहडोल कलेक्टर राज्य शासन द्वारा अनलॉक के संबंध में दिए गएदिशा-निर्देशों से क्राइसिस कमेटी के सदस्यों एवं अधिकारियों को अवगत करा रहे थे।

खाद्य मंत्री श्री सिंह ने कलेक्टर से कहा कि अनलॉक के संबंध में क्राइसिस मैनेजमेंट के सदस्यों की लिखित राय अथवा सुझाव प्राप्त करें उसके बाद अपनी टीप के साथ राज्य शासन को प्रस्तुत करें जिनके आधार पर अनलॉक के संबंध में निर्णय लिया जाएगा।



वन मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने कहा है कि राष्ट्रीय उद्यानों के संचालक की यह जिम्मेदारी होगी कि सभी राष्ट्रीय उद्यान जो एक जून से 30 जून तक के लिए खोले जा रहे हैं, उनमें आने-जाने वाले व्यक्तियों से कोविड-19 गाइड लाइन का सख्ती से पालन कराएँ। डॉ. शाह वन्य प्राणी क्षेत्रों के पर्यटन की तैयारियों के संबंध में विभागीय अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जायजा ले रहे थे।

वन मंत्री ने हिदायत दी कि गाइड लाइन का पालन कराते हुए पर्यटन गतिविधियाँ चालू की जाएँ। उन्होंने बाघ-शावकों की सुरक्षा का विशेष रूप से ध्यान रखने के साथ ही 6 माह से छोटे बाघ-शावक जिन क्षेत्रों में मौजूद हैं, उन क्षेत्रों की पर्यटन गतिविधियाँ अस्थाई रूप से सीमित करने के निर्देश दिए।

वन मंत्री ने कहा कि सफारी के समय जहाँ बाघ दिखने की संभावना हो वहाँ पर भीड़ एकत्रित नहीं होना चाहिए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रमुख सचिव वन श्री अशोक वर्णवाल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक- वन बल प्रमुख श्री रमेश गुप्ता, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) श्री आलोक कुमार, टाईगर रिजर्व के फील्ड डारेक्टर और उप संचालक भी शामिल हुए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ